अखिलेश की टीम खोलेगी सांसद आदर्श गाँवो की पोल

अखिलेश की टीम खोलेगी सांसद आदर्श गाँवो की पोल

अखिलेश की टीम के खोलेगी सांसद आदर्श गाँवो की पोल-समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने युवाओ की टीम को बड़ी जिम्मेदारी दी।

युवाओ की टीम को शुभकामनाएं देते हुए अखिलेश यादव ने कार्यक्रम की जिम्मेदारी प्रदान की।

इस टीम में लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्र नेता अंकित सिंह बाबू, सतीश शर्मा समर, महेंद्र यादव ,माधुर्य सिंह मधुर, अनुज यादव अन्नू शामिल है।

इस कार्य्रकम का नाम #आवाजउठाओसच_बताओ है।

इस कार्यक्रम में अखिलेश की टीम आदर्श ग्राम में भ्रमण करेगी।

जिसमे सरकारी मानकों आधार आदर्श ग्राम का भ्रमण कर समिझा करेगी।

गाँव भ्रमण करने के बाद एक रिपोर्ट जारी करेगी।

सांसद आदर्श ग्राम योजना की खोलेंगे पोल
 
4 साल पहले जुमलेबाज़ी वाली सरकार ने गांव को गोद लेकर उसके कायाकल्प करने के लिए ​सांसद आदर्श ग्राम योजना की शुरुवात करी थी।

इस योजना के तहत सांसदों को एक आदर्श गांव का कार्य करना था।

हमेशा की तरह गांव  का हर नागरिक बहुत खुश था क्यूंकि उसे लगा कि अच्छे दिन आगये पर सच्चाई कुछ और ही निकली।

धूमधाम से शुरू हुई ​​सांसद आदर्श ग्राम योजना अब भाजपा के लिए मुश्किल खड़ी कर सकती है। 

इसकी वजह समाजवादी पार्टी का वह पोल खोलो कार्यक्रम है।

जिसके तहत शुक्रवार की शाम युवाओं की एक टोली उत्तर प्रदेश के 16 जिलों के दौरे पर रवाना हुई है।

यह टीम सांसदों के गोद लिए गांव की हकीकत परखेगी और लोगों को बताएगी कि उनके साथ कितना बड़ा धोखा हुआ है​ ।​

पूर्वांचल के विभिन्न जिलों में होगा कार्यक्रम

यह टीम पूर्वी उत्तर प्रदेश के 16 संसदीय सीटों पर जाकर भाजपा सांसदों के गोद लिए हुए गांव में अब तक हुए विकास कार्यों का आकलन करेगी​।​​​

सर्वे टीम के सदस्यों ने बताया कि वह ​3 ​फरवरी से 20 फरवरी के दौरान पूर्वी उत्तर प्रदेश में भाजपा सांसदों के क्षेत्र में जाकर हकीकत की पड़ताल करेंगे​।​

​घोसी के डुमराव बलिया के ओझवलिया, बस्ती के अमोढ़ा, संत कबीर नगर के सांडे खुर्द

डुमरियागंज के भारत भारी बांसगांव के कपरवार, कुशीनगर के गोपालगढ़ महाराजगंज के बड़हरा मीर गांव

गोरखपुर के जंगल औराही मिर्जापुर के बगही, भदोही के कौलापुर रावटसगंज के नगवा चंदौली के जरखोर कला सदर

जौनपुर के बूढ़पुर गाजीपुर के देवा गांव और वाराणसी का जया गांव ​।​ 

यह टीम लगातर विभिन्न मुद्दों पर सक्रिय रहती है

यह टीम जिसमे अंकित सिंह बाबू, सतीश शर्मा समर, महेंद्र यादव , माधुर्य सिंह मधुर, अनुज यादव अन्नू है

यह टीम पूर्व से ही लखनऊ विश्वविद्यालय और देश-प्रदेश के विभिन्न मुद्दों पर लड़ाई लड़ती रही है।

यह टीम अखिलेश सरकार में अखिलेश की पुनः सरकार लाने के लिए प्रचार करती रही है।

इस टीम ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सत्ता में आते ही लखनऊ विश्वविद्यालय में काला झंडा दिखाया था।

जिसमे इस टीम की 29 दिन की करावास बाद रिहाई हुई थी।

यह टीम समय-समय पर विभिन्न प्रकार के वैचारिक कार्यकम आयोजित करती रहती है।

इस टीम ने गुजरात के मुख्यमंत्री को यू० पी० के लोगो ले साथ हो रहे अन्याय के खिलाफ काला झण्डा दिखया था।

एक आंदोलन में अंकित सिंह बाबू को हालही में 4 माह के कारावास के बाद रिहाई हुई है।

Sending
User Review
0 (0 votes)

Leave a Comment