समाजवादी छात्र सभा ने संगोष्ठी का आयोजन किया

समाजवादी छात्र सभा ने संगोष्ठी का आयोजन किया

समाजवादी छात्र सभा ने संगोष्ठी का आयोजन किया– आज समाजवादी पार्टी के युवा कार्यलय में छात्र और किसान विषय पर संगोष्ठी का आयोजन हुआ। 

छात्र और किसान विषय पर आयोजित संघोष्ठी में बड़ी संख्या में छात्रो ने भाग लिया।

किसान और छात्रो पर संघोष्ठी का आयोजन छात्र सभा के प्रदेश अध्यक्ष दिग्विजय सिंह देव के नेतृत्व में हुआ।

लगातार तीन हफ़्तों प्रत्येक शनिवार को छात्र और किसान विषय पर आयोजित हो रही है।

जिसका समापन आज प्रबुद्ध और वरिष्ठ जनों के द्वारा हुआ।

आयोजित संघोष्ठी का संचालन अंकित सिंह बाबू ने किया।

कई प्रबुद्धजनों ने अपने विचार रखें

मुख्य वक्तों के रूप में कई प्रबुद्धजनों ने अपने विचार रखें।

जिनमें विधान परिषद के सदस्य आदरणीय श्री रामवृक्ष यादव ,श्री सुनील यादव ,

श्री राजपाल कश्यप एवं श्री विश्वदीप सिंह (पूर्व छात्र नेता लखनऊ विश्वविद्यालय),

श्री प्रदीप तिवारी प्रदेश अध्यक्ष लोहिया वाहनी,श्री संजय विद्यार्थी ”सविता”

लखनऊ विश्वविद्यालय के प्रोफेसर श्री राम गणेश यादव लुअक्टा की महामंत्री और असिस्टेंट प्रोफेसर श्रीमती अंशु केडिया ,

असिस्टेंट प्रोफेसर श्री अजय वीर शिया पीजी कॉलेज , श्री मनोज यादव ने अपने विचार रखे |

मुख्य वक्ताओ की बाते पढ़े

लखनऊ विश्वविद्यालय के प्रोफेसर श्री राम गणेश यादव ने कहा कि आज के दौर में भगवान पाना आसान है नौकरी पाना नही है।

लोहिया जी कहा करते थे कि कमजोरों को विशेष अवसर प्राप्त देने चाहिए जिससे वह अपना विकास कर सके।

लुअक्टा की महामंत्री और असिस्टेंट प्रोफेसर श्रीमती अंशु केडिया जी ने कहा कि शिक्षक अब प्रशासक हो गए है।

उनको नियमो द्वारा इतना बंध गए कि वह अन्याय के खिलाफ नही लड़ पा रहे है।

विधान परिषद सदस्य सुनील यादव ने कहा कि देश का नौजवान अपने आप को पहचान नही पा रहा है।

वह अपनी लड़ाई नही लड़ रहा है। वह इंतज़ार में हमारी लड़ाई कोई लड़ेगा। लेकिन अपनिलड़ै उसे खुद ही लड़नी पड़ेगी।

मऊ के छात्र नेताओं की मृत्यु शोक सभा का आयोजन

आपको बता दे कि प्रत्येक शनिवार को विभिन्न सामाजिक विषयों पर संघगोष्ठी आयोजित होती है।

लगातार तीन शनिवार से छात्र और किसान विषय पर चल रही संघगोष्ठी का समापन हुआ।

विभिन्न विषयों के वक्तों ने अपने अनुभवों को साझा किया।

विभिन्न प्रकार के आकड़ो द्वारा देश मे बेरोजगार और किसान की दशा को परिभाषित किया।

23 दिसम्बर किसान दिवस की पूर्व संध्या पर चौधरी चरण सिंह जी को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

कार्यक्रम के अंत मे आगरा में हुई घटना में एक कक्षा 10 में पढ़ने वाली छात्रा की हत्या एवं

एक सड़क दुर्घटना में मऊ जनपद के 4 छात्र नेताओं की हुई दुर्घटना मे दुखद मृत्यु पर दुःख वक्त करते हुए।

मौन रखकर समाजवादी छात्र सभा के परिवार ने अपने शोक संवेदनाएं व्यक्त की।

Sending
User Review
0 (0 votes)

Leave a Comment