राम जन्मभूमि जाने पर रोक

राम जन्मभूमि जाने पर रोक

राम जन्मभूमि जाने पर रोक

राम जन्मभूमि जाने पर रोक-राम मंदिर निर्माण के उद्देश्य से विश्व हिंदू परिषद 25 नवम्बर को अयोध्या में धर्मसभा आयोजित कर रही है।

आर पार के संघर्ष की बात कहते हुए ‘कसम राम की खाते हैं, हम मंदिर वहीं बनाएंगे..’ जैसे स्लोगन लिखे पर्चें लोगों में बांटकर माहौल गरमाया जा रहा है।

धर्मसभा में 1 लाख राम भक्तों के आने का दावा किया जा रहा है।

विवादित स्थल तक जाने की अनुमति नही

किसी भी प्रकार के असामाजिक तत्वों से निपटने के लिए के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि 25 नवम्बर को अयोध्या के विवादित स्थल तक किसी को भी न जाने दिया जाये।

धर्मसभा के लिए प्रदेश के अन्य जिलों से आने वाली संभावित भीड़ को देखते हुए सीएम योगी ने सभी जिलों को अलर्ट रहने के निर्देश दीए हैं.

मुख्यमंत्री ने अयोध्या और आसपास के जिलों में पर्याप्त पुलिस बल तैनात करने की हिदायद दी है.

राम मंदिर पर फैसला संतों को लेना है

25 नवम्बर को अयोध्या में वि०हि०प० विराट धर्मसभा आयोजित कर रही है। संकल्प पत्र और पत्रक बांटकर राम भक्तों से अयोध्या आने का आग्रह किया जा रहा है।

विहिप के प्रांतीय प्रवक्ता शरद शर्मा ने कहा कि राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण की तिथि साधु-संत ही तय करेंगे|

धर्मसभा में संतों के फैसले के बाद विहिप एक क्षण की भी देरी नहीं लगाएगी| राम मंदिर पर फैसला संतों को ही लेना है|

Leave a Comment