निषाद पार्टी के प्रदर्शन में सिपाही की हत्या मामले नया वीडियो आया सामने देखे कैसे भीड़ हुई आक्रोशित

निषाद पार्टी के प्रदर्शन में सिपाही की हत्या मामले नया वीडियो आया सामने देखे कैसे भीड़ हुई आक्रोशित

निषाद पार्टी के प्रदर्शन में सिपाही की हत्या मामले नया वीडियो आया सामने देखे कैसे भीड़ हुई आक्रोशित-उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने त्रीशुत्रीय आरक्षण की मांग को लेकर जिले के अठवा चौराहे को जाम कर दिया था।

शनिवार को ही प्रधानमंत्री की रैली जिसके खत्म के बाद ही यह प्रदर्शन शुरू हुआ था।

रैली से वापस हो रहे लोगो की गाड़ियां मुहम्मदाबाद की ओर जा रही थीं।

जिस कारण सुरक्षाबल ने निषाद पार्टी के लोगों को वहाँ से हटाने का प्रयास किया।

देखते देखते भीड़ ने उग्र रूप धारण कर लिया और पथराव शुरू हो गया।

पथराव के कारण कॉन्स्टेबल सुरेश वत्स जख्मी हो गए थे।

अस्पताल ले जाते समय बीच रास्ते मे ही हेड कॉन्स्टेबल सुरेश वत्स की मृत्यु हो गयी थी।

देखे वीडियो
https://twitter.com/WeUttarPradesh/status/1080388362039709696?s=19

योगी सरकार पर अखिलेश का हमला

समाजवादी पार्टी  के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस घटना निंदा करते हुए योगी सरकार पर निशाना साधा और कहा,

‘‘यह घटना इसलिए घटी है, क्योंकि सीएम सदन में हों या मंच पर हों उनकी एक ही भाषा है- ठोक दो।

कभी पुलिस को नहीं समझ आता किसे ठोकना है, कभी जनता को नहीं समझ आता किसे ठोकना है।’’

निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओ ने नही की हत्या

निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संजय निषाद ने कहा है कि जो घटना हुई बेहद दुःखद है लेकिन यह आरोप लगाना की निषाद पार्टी के कार्यकर्ता इस घटना शामिल थे।

यह गक्त है बल्कि, इस घटना में बीजेपी और संघ के लोगों शामिल थे।

उन्होंने घटना की उच्चस्तरीय जाँच की माँग की है।

संजय निषाद ने कहा कि योगी सरकार के चलते ही ऐसी स्थिति पैदा हुई।

योगी निषादों को आरक्षण देने की बात तो करती है, लेकिन निर्णय नहीं करती है।

इसी कारण निषाद समाज सड़कों पर उतरा।

Sending
User Review
0 (0 votes)

Leave a Comment