विलय के बाद बैंको की संख्या 27 से घटकर 12, जाने आपके बैंक का किस में बैंक विलय

विलय के बाद बैंको की संख्या 27 से घटकर 12, जाने आपके बैंक का किस में बैंक विलय

विलय के बाद बैंको की संख्या 27 से घटकर 12, जाने आपके बैंक का किस में बैंक विलय-सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के विलय के मामले में बड़ा कदम उठाते हुए

Oriental bank of commerce और यूनाइटेड बैंक का Punjab national  (PNB) के साथ विलय की घोषणा की है।

इस बैंकों के विलय से PNB देश का दूसरा बड़ा सरकारी बैंक बन जाएगा।

Indian Economy की सुस्‍ती को दूर करने के लिए Finance Minister Nirmala Sitaraman आज शुक्रवार को एक बार फिर मीडिया से मुखातिब हुईं।

Nirmala Sitaraman ने देश के कई बड़े बैंकों के मर्जर के ऐलान किए।

उन्‍होंने बताया कि हमारी सरकार 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने के लिए प्रयास कर रही है।

जाने किस बैंक का किस बैंक में विलय, बैंको की संख्या 27 से घटकर 12

Finance Minister Nirmala Sitaraman ने संवाददाता सम्मेलन में सार्वजनिक क्षेत्र के कई बैंकों के विलय की घोषणा करते हुए।

Syndicate bank और Canera Bank के विलय के साथ ही Andhra Bank,

Copration Bank को Union Bank of India में विलय की घोषणा की।

Indian Bank का Allahabad Bank में विलय कर सार्वजनिक क्षेत्र का सातवां बड़ा बैंक बनेगा। 

सरकारी बैंक मुनाफे में-Finance Minister Nirmala Sitaraman

Nirmala Sitaraman ने कहा कि इन बैंकों के विलय के पीछे उद्देश्य देश में वैश्विक आकार के बड़े बैंकों का निर्माण करना है।

इस साल जनवरी में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने Bank of Baroda के साथ

Dena Bank और vijaya Bank के विलय को मंजूरी दी थी। यह विलय एक अप्रैल से प्रभावी हुआ।

इन विलय के बाद सरकारी बैंक की संख्या 27 से घटकर 12 रह जाएगी,

इससे पहले साल 2017 में पब्‍लिक सेक्‍टर के 27 बैंक थे।

बता दें कि इससे पहले सरकार ने भारतीय स्टेट बैंक में उसके पांच सहयोगी बैंकों और Bhartiya state Bank का विलय किया है।

निर्मला सीतारमण ने बताया कि 18 में से 14 सरकारी बैंक प्रॉफिट में हैं

Leave a Comment