मध्यप्रदेश कांग्रेस के कद्दावर नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने की बगावत

मध्यप्रदेश कांग्रेस के कद्दावर नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने की बगावत

मध्यप्रदेश कांग्रेस के कद्दावर नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने की बगावत

मध्यप्रदेश कांग्रेस के कद्दावर नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने की बगावत-मध्यप्रदेश में जहाँ कांग्रेस जीत का दम भर रही है। वही कांग्रेस अपनी ही पार्टी आंतरिक कलह दूर नही कर पा रही है।

आपको बता दे कि कांग्रेस के कद्दावर नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने की बगावत।
वह अपने पुत्र नितिन चतुर्वेदी को छतरपुर से टिकट न मिलने नाराज है।

सत्यव्रत चतुर्वेदी के भाई आलोक छतरपुर से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे है।
अब नितिन चतुर्वेदी राजनगर से साइकिल पर सवार हो गए।

नितिन चतुर्वेदी ने की साईकिल सवारी

नितिन समाजवादी पार्टी के टिकट पर राजनगर विधानसभा से चुनाव लड़ रहे है।
बगावत में उनके पिता पिता भी पूरा साथ दे रहे है। सत्यव्रत चतुर्वेदी लगातार प्रचार कर रहे है।

राजनगर से कांग्रेस प्रत्यासी कु० विक्रम सिंह(नाती राजा) है नाती राजाराजनगर से 2003 में साईकिल पर सवार होकर पहली बार विधायक हुए थे।

उसके बाद  अगले चुनाव में वह कांग्रेस के टिकट पर लगातार 2 बार से विधायक है। अब लड़ाई काटे की है।

शिवराज के बेटे का विरोध

Yogi Sarkar Will Change 13 Districts Name In UP

सत्यव्रत चतुर्वेदी का राजनीतिक सफर

1980-84 और 1993-97 विधायक मध्य प्रदेश विधानसभा, 1983-84 उप मंत्री, मध्य प्रदेश सरकार, 1993-95 अध्यक्ष याचिकाओं पर समिति, 1996-97 अध्यक्ष विशेषाधिकार समिति, 1999 फरवरी से 2004 सदस्य तेरहवीं लोकसभा, 1999-2000 सदस्य विदेश मामलों के सदस्य समिति, संसद सदस्य स्थानीय क्षेत्र विकास योजना सदस्य, हिंदी सलाहाकर समिति, संसदीय मामलों के मंत्रालय 2000 सदस्य, रेल मंत्रालय के लिए सलाहकार समिति 2004 के महासचिव, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी।

Leave a Comment