लखनऊ विश्वविद्यालय समेस्टर परीक्षा ध्वस्थ

लखनऊ विश्वविद्यालय समेस्टर परीक्षा ध्वस्थ

लखनऊ विश्वविद्यालय समेस्टर परीक्षा ध्वस्थ

लखनऊ विश्वविद्यालय समेस्टर परीक्षा ध्वस्थ – लखनऊ विश्वविद्यालय में समेस्टर परीक्षा के प्रथम दिन बड़ी संख्या में छात्र एडमिट कार्ड न मिलने से परीक्षा देने से वंचित रह गए। परीक्षा नियंत्रक पूर्व के भाती ही छात्रो से अभद्रता करके दिखे। छात्र परेशान और किसी छात्राये रोती दिखी। विश्वविद्यालय प्रशासन की कमियों का खामियाजा छात्रो के भुगतना पड़ा।

बड़ी संख्या में छात्र छात्राए परीक्षा से वंचित रह गए।

लखनऊ विश्वविद्यालय परीक्षा परिणाम 2019

किन्तु लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति महोदय ने छात्रो से मिलना भी उचित नही समझा।

लखनऊ विश्वविद्यालय में लगातार भ्रष्टाचार और अनियमिताए सामने आ रही है। जिसमे कुलपति से लेकर अधिकारियो तक संलिप्तता के आरोप लग रहे है। यह आरोप मात्र है। या सच यह तो समय ही बताया। लेकिन छात्रों की यह दशा विश्वविद्यालय की छवि धूमिल कर रहा है।

51,000 का ही डाटा प्राप्त होने की बात

लखनऊ विश्वविद्यालय ने डेटा रिसोर्स सेंटर से प्रथम वर्ष में प्रवेश लेने वाले छात्रो का डाटा मांगा था।

ल० वि० वि० से सम्बद्ध 55,000 छात्रो ने प्रवेश लिया। लेकिन मात्र 51,000 का ही डाटा प्राप्त होने की बात कही है। ल० वि० वि० प्रवेश समन्वयक अनिल मिश्रा का कहना है कि बाकी 4,000 डाटा जंक है। जबकि इनमेसे बड़ी संख्या में छात्र ऐसे है। जिनका प्रवेश् होने के बाद भी एडमिट कार्ड नही जारी हुआ है।

छात्रो का एक वर्ष बर्बाद हो गया

नवयुग कन्या महाविद्यालय की छात्रा शालिनी भारती ने 1200 रुपए खर्च करके। फॉर्म लोग इन करने के बावजूद कॉलेज की लापरवाही की वजह से उसका एडमिट कार्ड नही मिल पाया। कॉलेज की प्रिंसिपल ने कहा कि अब ऑनलाइन प्रक्रिया होने के कारण हम कोई संसोधन नही कर सजते है। मुद्दे की बात यह है कि यह पूरी घटना लखनऊ विश्वविद्यालय के डाटा रिसोर्स डिपार्टमेंट की गलतियों की वजह से हुआ है।हालांकि गलती किसी की हो लेकिन छात्रो का एक वर्ष बर्बाद हो गया।

अक्टूबर तक चले बीकॉम के दाखिले

लखनऊ विश्वविद्यालय छात्र हुआ चोटिल

प्रवेश के कुछ घंटे पहले पहुँचे छात्र आयुष तिवारी ने बताया कि 28 अक्टूबर को मेरा प्रवेश हुआ। इस वजह से मेरा यूनिक आई० डी० और कार्ड नही बना है। ऐसी कारण मेरा प्रवेश पत्र नही आया।

प्रवेश समन्वयक अनिल मिश्रा इस बात का जवाब नही दे पा रहे है। कि बैकडोर से कितने एडमिशन अक्टूबर तक हुए।

Leave a Comment