बुलंदशहर इंस्पेक्टर सुबोध सिंह हत्या मामले में बड़ा खुलासा

बुलंदशहर घटना का सच

बुलंदशहर इंस्पेक्टर सुबोध सिंह हत्या मामले में बड़ा खुलासा

बुलंदशहर इंस्पेक्टर सुबोध सिंह हत्या मामले में बड़ा खुलासा-इंस्पेक्टर सुबोध सिंह अखलाक कांड की जाँच क्त्रो के मुताबिक, इंस्पेक्टर सुबोध सिंह पर गोली चलाने वाला पूर्व सैनिक है। वह महाव गांव का निवासी है।

इंस्पेक्टर सुबोध सिंह हत्याकांड मामले में 7 लोगों की पहचान की गई है। अबतक 2 लोगो की गिरफ्तारी हो गयी है।

हिंसाकांड के कारण और मौके से पुलिस के भागने की जांच के लिए एसआईटी गठित की गई है।

सुबोध अख़लाक़ कांड की जाँच कर रहे थे

27 सितंबर 2015 को दादरी में अख़लाक़ कांड की चर्चा पूरी दुनिया में हुई थी।

इस कांड में गोमांश को लेकर अफवाह फैली थी।

जिसमे हिसंक भीड़ ने अखलाक और उसके बेटे की जमकर मारा था।

जिस कारण बुजुर्ग अख़लाक़ की मौत हो गई थी।

जिसमे उसका बेटा दानिश गम्भीर रूप से घयाल हो गया था।

इस मामले में इंस्पेक्टर सुबोध सिंह ने अहम भूमिका निभाई थी।

पूरे इलाके में शांति व्यवस्था बनाने के लिए कठोर कदम उठाए थे।

बीजेपी नेता के पुत्र समेत 1 दर्जन से अधिक लोगो पर मुकदमा

इस मामले में बीजेपी नेता के पुत्र समेत 1 दर्जन से अधिक लोगो पर मुकदमा हुआ था।

अख़लाक़ के परिवार ने बताया था कि उनके फ्रिज से मिला माँस ‘मटन’ था।

इस मामले में इंस्पेक्टर सुबोध सिंह गवाही होने वाली थी।

लेकिन उससे पहले ही गोमांश के बवाल में ही उनकी जान चली गई।

आक्रोशित भीड़ ने सुबोध पर किया हमला

बुलंदशहर इंस्पेक्टर सुबोध सिंह हत्या मामले में बड़ा खुलासा हो सकता है

बुलंदशहर के स्याना कोतवाली में चिंगराठी जंगल में अधिक मात्रा में माँस पड़ा हुआ था।

जिसकी जानकारी मिलने पर भारी संख्या में जनता पहुँच गयी।

गोमांश होने के शक में चिंगराठी गाँव के निकट रोड को जाम कर दिया। बवाल जानकारी मिलने पर स्याना थाने की पुलिस मौके पर पहुँची।

पुलिस ने भीड़ को हटा कर जाम खोलने का प्रयास किया।

जिस कारण भीड़ आक्रोशित होकर पथवार करने लगी। जिसमे सुबोध सिंह घयाल हो गए।

ड्राइवर और साथी सुबोध को छोड़कर भागे सुबोध सिंह के ड्राइवर ने बताया कि हिसंक भीड़ में पथराव शुरू कर दिया।

जिसमे इंस्पेक्टर सुबोध घयाल हो गए। जब कार चालक ने सुबोध को अस्पताल पहुचाने की कोशिश की तो भीड़ ने उग्र होकर फिर हमला कर दिया।

जिसके बाद वाहन चालक और एल साथी भाग निकले। लेकिन सुबोध सिंह वाहन में ही घयाल पड़े रहे जिससे कुछ समय बाद उनकी मृत्यु हो गयी।

 

विवेक तिवारी हत्याकांड में सना खान बड़ा का खुलासा

Leave a Comment