गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी से मिलने जा रही महिला बीटीसी प्रशिक्षुओं पर लाठीचार्ज

महिला बीटीसी प्रशिक्षुओं पर लाठीचार्ज

गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी से मिलने जा रही महिला बीटीसी प्रशिक्षुओं पर लाठीचार्ज हुआ। आज करीब 12 बजे बीटीसी 2015 बैच पेपर लीक मामले का विरोध कर रहा था। तभी छात्रो को जानकारी मिली कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर दौरे पर है। छात्र-छात्राओ ने पैदल मार्च करते हुए। मुख्यमंत्री योगी से मिलने जा ही रहे थे। तभी भारी पुलिस बल ने उनका रास्ता रोक लिया। छात्रो ने कहा कि वह शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बात रखना चाहते है।

काफी देर बात चर्चा के बाद। छात्रो ने मुलाकात करे बिना वापस ना जाने से अड़े रहे। तब ही पुलिस ने बर्बरतापूर्ण लाठी चार्ज किया। जिसमें छात्रो को गम्भीर छोटे आयी। छात्राओ पर पानी के टैंक से बौछार की गई। गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी से मिलने जा रहे बीटीसी  प्रशिक्षुओ पर लाठी चार्ज करने पूरे प्रदेश के छात्र नाराज।

गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी से मिलने जा रही महिला बीटीसी प्रशिक्षुओं पर लाठीचार्ज

नवरात्रि में महिलाओं पर लाठीचार्ज

गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी से मिलने जा रही महिला बीटीसी प्रशिक्षुओ पर लाठीचार्ज से छात्रो में रोष।
बीटीसी छात्र संघर्ष मोर्चा के छात्रनेता राजन वर्मा ने कहा गोरखपुर में छात्रो पर लाठीचार्ज निंदनीय है। आज नवरात्रि के पवन मास में महिलाओं पर लाठीचार्ज चार्ज शर्म का विषय है
छात्राओ पर पानी से बौछार करना अशोभनिय है। छात्र अपनी बात मुख्यमंत्री से नही रखेगा। तो किससे रखेगा, पेपर लीक साजिशन हुआ है। जिससे बीटीसी छात्र-छात्राए शिक्षक भर्ती से बाहर हो जाए, बीटीसी छात्र संघर्ष मोर्चा ने पेपर लीक की उच्चस्तरीय जांच कराने के साथ बीटीसी चतुर्थ समेस्टर की परीक्षा 15 से 20 अक्टूबर के बीच कराए जाने की मांग की है। साथ ही शिक्षक पात्रता परीक्षा की तारीख एक माह आगे बढ़ाया जाने की मांग की है। इन सभी मांगों को लेकर मोर्चे ने जिला प्रशासन के माध्यम से राज्यपाल और मुख्यमंत्री को ज्ञापन दिया है

बीटीसी सेमेस्टर परीक्षा पेपर हुआ वायरल

 आपको बता दे कि 8 से 10 अक्टूबर तक बीटीसी चौथे समेस्टर की परीक्षा निर्धारित थी।
किन्तु  बीटीसी 2015 बैच चौथे सेमेस्टर परीक्षा का पेपर। एक दिन पहले ही सोशल मीडिया वायरल हो गया,जिसकी सूचना मिलते ही परीक्षा नियामक अधिकारी ने परीक्षा रद्द कर दी।

बीटीसी पेपर लीक से नाराज छात्रो ने विरोध प्रदर्शन किया

इसी विषय को लेकर गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी से मिलने जा रही महिला बीटीसी प्रशिक्षुओ पर लाठीचार्ज. किया गया।

परीक्षा नियामक अधिकारी द्वारा जारी आदेश पत्र में लिखा, ‘सोशल मीडिया पर वायरल प्रथम प्रश्न पत्र का मिलान करने पर पाया गया है कि दोनों पेपर एक समान हैं। इसके अलावा कई अन्य पेपरो की वॉट्सऐप पर लीक होने की खबर है। इस बात संज्ञान लेते हुए 8 अक्टूबर से 10 अक्टूबर के बीच होने वाली बीटीसी-2015 के चौथे सेमेस्टर की सभी परीक्षाएं निरस्त की जाती हैं।’महिला बीटीसी प्रशिक्षुओं पर लाठीचार्ज

Sending
User Review
0 (0 votes)

Leave a Comment