सवर्ण आरक्षण से लाभान्वित जातियों की सूची

सवर्ण आरक्षण से लाभान्वित जातियों की सूची

सवर्ण आरक्षण से लाभान्वित जातियों की सूची-इस आरक्षण का लाभ केवल हिंदू सवर्णों को नहीं मिलेगा।

बल्कि इसके दायरे में मुस्लिम, सिख ,संसद में सवर्ण जातियों को 10 प्रतिशत आरक्षण


करने वाला 124वां संविधान संशोधन विधेयक पास हो गया है।
इसके बाद गरीब सवर्णों के लिए भी सरकारी नौकरियों में 10 फीसदी का रास्ता साफ हो जाएगा।

लेकिन इस आरक्षण का लाभ केवल हिंदू सवर्णों को नहीं मिलेगा।

बल्कि इसके दायरे में मुस्लिम, सिख और क्रिश्चियन समुदाय के लोग भी आएंगे।

ऐसे में वे कौन सी जातियां, उपजातियां होंगी जो इस आरक्षण का लाभ उठा पाएंगीं इस पर स्थिति साफ नहीं है।

हम यहां ऐसी जातियों की लिस्ट दे रहे हैं जिनका इस्तेमाल भारतीय लोकतंत्र और समुदायों के विकास पर शोध करने वाली संस्था लोकनीति अपने ट्रैकर के रूप में करती है।

हालांकि इस ट्रैकर का इस्तेमाल लोकनीति ने उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनावों के दौरान किया था. इसलिए यह लिस्ट उत्तरप्रदेश पर पूरी तरह से लागू होती है, हालांकि ज्यादातर हिंदी भाषी राज्यों में ऐसी ही स्थिति है।

हालांकि कुछ राज्यों में जातियों और उपजातियों के वर्ग में कुछ बदलाव भी हो सकता है

हिंदू धर्म की जातियां -ब्राह्मण: अत्री, भार्गव, जमदग्नि, कौशिक, भारद्वाज, चतुर्वेदी, द्विवेदी, त्रिवेदी, गौड़, झा, जोषी, कान्यकुन्ज, मिश्रा, पाण्डे, शर्मा, वैष्णव, पुरोहित, पाराषर, शाण्डिल्य, पालीवाल, पारीक, तिवारी, कश्यप, ठाकुर, राय, आचार्य, व्यास, गोस्वामी, वेदी, चौबे, दूबे, पाठक, द्रौण, वाजपेयी, शुक्ला, पुष्पकर्मा, सनाध्या, सारस्वत आदि

सरयू परीण भूमिहार- गौतम, कोलाहा, गौतम भारद्वाज, भृगुवंशी, दीक्षित, दोनवर, कौशिक, किनवर, किस्तवर, सकरवर, सोनवर, बेनवर, भागटा, बघोचिया, बक्सरिया, बीरहारिया, बरबर, गर्गबंस चौधरी, राय, सिंह, ठाकुर, शर्मा, सिन्हा, त्यागी, मिश्रा,

जातियों की उपजातियों की वर्गीकरण साफ नही

पाण्डेय राजपूत-बघेल, बौण्डली, चौहान, क्षत्रिय भंडारी, परमार, राठौड़, सिंह, ठाकुर, सिसोदिया, कच्छावा, तंवर, कर्णावत, शेखावत, भाटी, कछवा, झाला, पवार, गहलोत आदि

परिहार कायस्थ- स्थाना, करण कायस्थ, भटनागर, दास, लाल, माथुर, निगम, सहाय, सिन्हा, श्रीवास्तव, कुलश्रेष्ठ, नाग, बख्शी, उदावत, सिमलोत, पंचोली, अम्बष्था करण, वर्मा, जौहरी, सक्सेना, स्वरूप, हजेला आदि

गौड़वैश्य,बनिया-बर्णवाल, गहोई, रस्तोगी, वार्ष्णेय, पूर्वी उत्तरप्रदेश में साहू, केशरी, जायसवाल, अग्रवाल, बनिया, गुप्ता, खण्डेवाल, लोहाना, माहेश्वरी, पौद्दार, रस्तोगी, शाह, श्रीमाली, वशिष्ट, मारवाड़ी, ओसवाल,

गहलोत जैन बर्णवाल-बनोर, भवसर, धाकड़ जायसवाल, खण्डेलवाल, माहेश्वरी, मारवाड़ी, मथेरा, मीवाड़ा, ओसवाल, परवार, कोरवल, बाफना, सरौगी, कोठारी,

इत्यादिपंजाबी खत्री (सिर्फ हिन्दू)-कपूर, सेठ, नागरथ, आहलूवालिया, अरोड़ा, बजाज, बेदी, भल्ला, खन्ना

इत्यादि सिन्धी- आडवाणी, भानुशाली, केसरवानी, मूलचन्दाणी, मिग्लानी, जिनका अन्तिम शब्द आणी से समाप्त होता होअन्य उच्च जातियां: त्यागी एवं

अन्यडॉमिनेन्ट पेजेन्ट प्रोपेराइटर-जाट (केवल हिन्दू)- चौधरी, दहिया, दलाल, देस्वा, घटवाल, मलिक, पंवार, तोमर आदि।

अल्पसंख्यक धर्म की सवर्ण जातियां

मुस्लिम धर्म की जातियां -अशराफ, सैय्यद
शेख:अब्बासी, अहमदिया, आलवी, अल्वी,अबीदी, शेख अंसारी, असकारी, बकारी, बोहरा, चिश्ती, दाऊदी, फरूखी, हसनी, हासिमी, जाफरी, जलाली, काजीमी, खोजा, खुराशनी, किदवई, मेमन, मिल्की, मौलिक, नकवी, कादरिया, काजी, कुरैशी (शेख), रिजवी, शेख, सिद्दकी, सुलेमानी, सैय्यद, तकवी, उस्मानी,

जैदीमुगल खान-अफरीदी, बंगश, भरचे, बरकजाई, चक्ताई, दरजाई, दुर्रानी, घोरघुश्ती, घौरी, काकड़, कारिदजाई, खलील, खान, लोधी, मोहम्मद, मोहम्मदजई, पठान, किजिलबास, रोहिला, तजिक, तेमूरी, तुर्कमान, उजबेग आदि

युसुफजाईराजपूत-बेस, बडगुर्जर, भाले सुल्तान, भट्टी, बिसन, चन्देल, चौहान, गौतम, घोषी, जाट, खानजादा, लालखानी, मेव, मेवाती, पंवार आदि।

कोमे-पंजाबीयन, रईकवाड़, रनघर, राठौड़, सोमबंशी, तागा आदि।

तोमर अन्य सवर्ण जातियां- बाणबती, बंजारा, बाजीगर, बेहरूपी, चदवा, धागीमुषी, मुर्शीद, नूनगार, कुरैशी (कसाई) आदि।

सिक्ख धर्म की जातियां – जाट सिक्खः चहल, घूमन, गिल, ग्रेवाल, हीर, जाट, कांग, मंगत, मान, पुनिया, रंधावा, साही, सारा, सिद्धू, सिंधु, सोदिन, सोहलखत्री अरोड़ा आदि।

सिक्ख: अहलुवालिया, अरोड़ा, बजाज, बेदी आदि।

Sending
User Review
0 (0 votes)

Leave a Comment