CM Yogi की BTC प्रशिक्षुओ पर टिप्पणी,BJP को लोकसभा चुनाव में नुकसान पहुँचा सकती है

cm yogiangry on btc students, cm yogiadityanath huye gussa, cm yogiaditynath ki fanny pics,

CM Yogi की BTC प्रशिक्षुओ पर टिप्पणी,BJP को लोकसभा चुनाव में नुकसान पहुँचा सकती है

CM Yogi की BTC प्रशिक्षुओ पर टिप्पणी,BJP को लोकसभा चुनाव में नुकसान पहुँचा सकती है-फतेहपुर सीकरी लोकसभा क्षेत्र से BJP प्रत्याशी राजकुमार चाहर के समर्थन में जनसभा करने पहुंचे CM Yogi adityanath ने मंच से BTC प्रशिक्षुओ को फटकार लगाई.

सुने CM Yogi adityanath की पूरी बात

CM Yogi ने मंच पर आभार देना शुरू किया, इस दौरान भीड़ के बीच बड़ी संख्या में युवाओं को बैनर दिखाना शुरू कर दिया।

जिसमे वह हम बेरोजगार है, और बीएड को भर्ती से बाहर करो जैसी माँगे लिखी थी।

Yogiadityanath इसी बात से तिलमिला गए और ऐसा बयान दे दिया जो मुख्यमंत्री को शोभा नही देता है।

Yogi ji ने कहा कि ये बैनर नीचे कर लो, नहीं तो हमेशा के लिये बेरोजगार रह जाओगे.

CM Yogi ने कहा कि इन नमूनों को मेरे आने से पहले बाहर कर दिया करो।

पहला विरोध नही लगातार विरोध जारी है

BJP को लोकसभा चुनाव नुकसान हो सकता यह ऐसे ही नही कहा जा रहा है।

इस भर्ती से सीधे तौर पर 10 लाख नौजवान प्रभावित है।

जो कि सोशल मीडिया और सड़क दोनों पर दिख रहा है।

विगत माह प्रतापगढ़ में पंकज सिंह की जनसभा में डी.एल.एड. (deld) संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा ने विरोध किया था।

डी.एल.एड. (deld) संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा ने फरुखाबाद में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को घेरा था।

लखनऊ में डी.एल.एड. (deld) संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा ने उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा को भी ज्ञापन दिया।

लखनऊ में डी.एल.एड. (deld) संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा ने राजनाथ सिंह को सम्बोधित पत्र उनके पुत्र नीरज सिंह को ज्ञापित किया था।

डी.एल.एड. (deld) संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा जहाँ पर भी किसी दल के बड़े नेताओं की रैली हो रही है।

वहाँ पहुँचक्र ज्ञापन दे रहे है मोर्चा सलमान खुर्शीद कांग्रेस, अखिलेश यादव आदि लोगो को भी ज्ञापन दे चुका है।

मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष रजत सिंह ने कहा

डी.एल.एड. (deld) संयुक्त प्रशिक्षु मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष रजत सिंह ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा दिया गया बयान किसी मुख्यमंत्री की गरिमा के अनुरुप नही है।

जिस तरह से डी.एल.एड. एवम शिक्षामित्र भाइयो कि समस्या सुनने के बजाय उनको धमकिया दी जा रही है।

और वोट बैंक के लालच मे प्राथमिक मे जबरन बीएड को मान्य किया गया।

इससे मौजुदा सरकार को आगामी लोकसभा चुनाव में प्रभाव पड़ेगा।

कोई ऐसा प्रावधान नही जिसमे कहा गया हो कि बीएड को प्राथमिक शिक्षक भर्ती में BTC के बराबर अवसर प्रदान किया जाएगा।

जबकि प्रावधान यह कि यदि BTC प्रशिक्षुओ की संख्या कम पड़े तब बीएड या अन्य प्रशिक्षुओ को भर्ती में शामिल किया जाए।

लेकिन यह सरकार सीधे बीएड को शामिल कर रही है जिसका हम विरोध कर रहे है।

जाने पढ़े क्या है पूरा मामला

Sending
User Review
0 (0 votes)

Leave a Comment