शिक्षक भर्ती परीक्षा का Paper leak होने की संभावना

शिक्षक भर्ती परीक्षा का Paper leak होने की संभावना

शिक्षक भर्ती परीक्षा का Paper leak होने की संभावना-मेरठ में परीक्षा समाप्त होने के कुछ देर बाद कुछ लोगों के whatsapp पर परीक्षा के पेपर के कुछ अंश और series वाइज answer key पहुंची.

परीक्षा के दौरान ही whatsapp पर  answer key

वायरल होने से अधिकारियों में हड़कंप मच गया.अधिकारियों को इसकी सूचना दी गई.

जिला अधिकारी शैलेंद्र सिंह ने बताया कि इस संबंध में प्रयागराज संपर्क किया गया.

वहां से जानकारी मिली है कि इस संबंध में एसटीएफ ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया है.

हालांकि यह पेपर परीक्षा के दौरान वायरल हुआ है.

वहीं, STF मेरठ और आसपास भी इस सबंध में छानबीन कर रही है.

SSP ने बताया कि यहां से कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

लेकिन इससे शिक्षक भर्ती परीक्षा का Paper leak होने की संभावना को बल मिला है.

SSP मुरादाबाद ने बताया कि मुरादाबाद में भर्ती परीक्षा में devoice से नकल करते 4 अभ्यार्थियों को पुलिस ने पकड़ा है.

उनकी कॉपी सीज कर दी गई हैं

सभी से पुलिस पूछताछ कर रही है. इसके पीछे एक बड़ा रैकेट का हाथ होना बताया जा रहा है.

मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है.

कानपुर में मुन्नाभाई गिरफ्तार

SSP ने बताया कि अलोक कुमार वर्मा निवासी इटावा ने अपनी जगह परीक्षा देने के लिए एक सॉल्वर तय किया था.

सॉल्वर का नाम धीरज है जो फिरोजाबाद का रहने वाला है,

आरोपी गुरुनानक गर्ल्स कॉलेज नजीराबाद में परीक्षा दे रहा था.

इसकी सूचना इंस्पेक्टर रेल बाजार मनोज रघुवंशी को थी.

इन्स्पेक्टर ने चौकी इंचार्ज रामसिंह पुलिस के साथ पहुंचे और फर्जी आईडी पर परीक्षा देते गिरफ्तार हुए हैं.

पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार किया है, पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह पैसे लेकर परीक्षा दे रहा था.

सहायक शिक्षक भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी की सूचना मिलने पर ADG जोन राजीव कृष्णा और

SSP कलानिधि नैथानी ने सिविल पुलिस और एसटीएफ के साथ नेशनल इंटर कालेज में छापेमारी की.

खुफिया तंत्र से मिले इनपुट के आधार पर SSP ने कार्रवाई करते हुए क्षेत्राधिकारी अभय मिश्रा के साथ मिलकर नौ परीक्षार्थियों को दूसरे अभ्यर्थी के स्थान पर परीक्षा देते गिरफ्तार किया।.

इसके अलावा छापेमारी के दौरान कई गोलमाल सामने आये। एडीजी के निर्देश पर आरोपियों के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में कार्रवाई हो रही है.

परीक्षा के दौरान धांधली की जानकारी मिलते ही पहुंची एसटीएफ को देख कॉलेज प्रशासन और परीक्षाथियों की बीच खलबली मच गई.

इसमें सरगना समेत 2 अभ्यर्थी, 5 कक्ष निरीक्षक, 1 कॉलेज स्टाफ गिरफ्तार किए गए हैं.

प्रयागराज में 5 गिरफ्तार

SSP STF ने बताया कि इसके अलावा STF फील्ड की प्रयागराज को सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा

2019 मे सक्रिय सालवर गैंग के सरगना नागेंद्र सिंह

पुत्र रघुवर सिंह निवासी गांजा थाना पिपरी कौशांबी के साथ

सरोज विद्या शंकर इंटर कॉलेज झूसी में सुरेश यादव पुत्र माता प्रसाद यादव निवासी अतरौरा थाना आसपुर देवसरा जनपद प्रतापगढ़ की जगह राजेश यादव पुत्र

राधेश्याम यादव निवासी कंजा सराय थाना पट्टी जनपद प्रतापगढ़ तथा सहारा गर्ल्स इंटर कॉलेज करामात की

चौकी करेली में संतोष सिंह पुत्र राम सिंह निवासी दोहरिया थाना मेजा जनपद प्रयागराज की जगह

सालवर मनोहर कुमार सा पुत्र सरजू शाह निवासी जीरोमाइल थाना नवादा जिला आरा बिहार को गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई है.

प्रयागराज में 2 अभ्यर्थी 2 साल्वर और एक दलाल गिरफ्तार किया गया है.

गौरतलब है कि इस परीक्षा में शिक्षामित्रों को भी शामिल होने का अवसर मिला है.

ये परीक्षा प्रदेश के सभी 18 मंडल मुख्यालयों में 800 केंद्रों पर हो रही है.

यह बेसिक शिक्षा विभाग के इतिहास की सबसे बड़ी भर्ती परीक्षा है जिसमें करीब 4, 30 ,439 परीक्षार्थी शामिल हुए हैं.

इतनी बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों के शामिल होने से शिक्षक के एक पद के लिए करीब छह दावेदार हैं.

लंबे समय बाद केवल प्राथमिक स्तर के शिक्षकों की भर्ती के लिए इतनी बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है.

इतने मामले सामने आने लर यह लग रहा है कि 

शिक्षक भर्ती परीक्षा का Paper leak होने की संभावना है.

Sending
User Review
0 (0 votes)

Leave a Comment