अंकित सिंह बाबू का मऊ में स्वागत

अंकित सिंह बाबू का मऊ में स्वागत-लखनऊ विश्वविद्यालय के क्रांतिकारी छात्र नेता अंकित सिंह बाबू का उनके ग्रह जनपद में मऊ छात्रसंघ के पूर्व व वर्तमान पदाधिकारियो द्वारा भव्य स्वागत हुआ।समाजवादी पार्टी के छात्र संघठन समाजवादी छात्र के सैकड़ो की संख्या में पदाधिकारियों ने अंकित सिंह बाबू गर्मजोशी से स्वागत किया।

सैकड़ो की संख्या में नौजवानों ने किया स्वागत

जिले के बोर्डर से अंकित सिंह बाबू के साथ 50 से अधिक संख्या में चार पहिया वाहनों से स्वागत करके उन्हें पूर्व से अयोजित कार्यक्रम के लिए पूरे जिले का भ्रमण करते हुए। और विभिन्न स्थलो पर स्वागत हुआ और अंकित सिंह बाबू जिंदाबाद के नारे लगे। कार्यक्रम स्थल हिंदी भवन मऊ में पुनः अयोजित सभा मे स्वागत किया गया। जहाँ विभिन्न वक्ताओ ने अंकित सिंह बाबू के साहस और संघर्ष को प्रोत्साहित किया। उनके प्रत्येक संघर्ष को मजबूती से साथ रहने का वादा किया। इस कार्य्रकम के मुख्य अयोजक रणविजय यादव , शाश्वत तिवारी विपुल, चन्दन साहनी , मयंक पांडेय आदि साथी उपस्थित रहे।

छात्र नौजवान ही लड़ेगा लड़ाई

अंकित सिंह बाबू ने कहा कि पूरे देश जिस प्रकार अघोषित आपातकाल है। इस दौर में हम छात्र नौजवानों की जिमेदारी अधिक बढ़ गयी है। प्रदेश के परिसरों में जो छात्र नेता आपने हको की लड़ाई लड़ रहे है। उनको जेल भेज दिया जा रहा है। जो सामाजिक कार्यकर्ता आंदोलन कर रहे है। उन पर मुकदमें लाद दिए जा रहे है। पत्रकारिता को मजबूर किया जा रहे है। अपने अनुकूल करने के लिए। उस दौर में कोई लड़ाई लड़ेगा तो वह छात्र नेता और नौजवान लड़ेगा।

बोनट पर चड़कर काला झंडा दिखाया

आपको बता दे अंकित सिंह बाबू लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्र नेता है। जो लगातार छात्रहितों और सामाजिक मुद्दों पर संघर्ष करते है। अंकित सिंह बाबू पूरे देश मे तब चर्चा का विषय बने। जब लखनऊ विश्वविद्यालय में योगी आदित्यनाथ को काला झंडा दिखाया गया। अंकित सिंह बाबू और अन्य साथियों ने मुख्मंत्री योगी आदित्यनाथ के काफिले को आधे घंटे तक रोकर विरोध जताया। अंकित सिंह बाबू के साहस का इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता कि अंकित सिंह बाबू विरोध करते हुए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गाड़ी के बोनट पर चड़कर काला झंडा दिखाया।

120 दिनों के पीडायक कारावास

इसी वर्ष अंकित सिंह बाबू पुनः निर्दोष छात्रो की गिरफ्तारी का विरोध करते हुए। जेल भेज दिए गए।
वह 120 दिनों के पीडायक कारावास के बाद जेल से छूटे। उनका लखनऊ जेल से समाजवादी पार्टी कार्यालय तक भव्य स्वागत हुआ। जहाँ नरेश उत्तम पटेल प्रदेश अध्यक्ष समाजवादी पार्टी , राजेन्द्र चौधरी प्रदेश प्रवक्ता, एस० आर० एस० (MLC) , अरविंद सिंह (MLC) , द्वारा स्वागत हुआ। जहाँ अंकित सिंह बाबू के संघर्षो को सार्थकता प्रदान होगी इस बात का विश्वास दिलाया गया। जिसके बाद अंकित सिंह बाबू आपमे ग्रह जनपद गए जहाँ उनका गर्मजोशी से स्वागत हुआ।

लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्र नेताओं के साथ अपराधियों की तरह व्यवहार

Sending
User Review
0 (0 votes)

Leave a Comment