अखिलेश यादव और डिम्पल यादव पहुंचे शीरोज कैफे

अखिलेश यादव और डिम्पल यादव पहुंचे शीरोज कैफे

अखिलेश यादव और डिम्पल यादव पहुंचे शीरोज कैफे – अखिलेश यादव और डिम्पल यादव लखनऊ के गोमतीनगर स्थित शीरोज कैफे पहुँचकर एसिड अटैक से पीड़िताओ से मिले। अखिलश यादव ने शिरोज कैफे के बंद किये जाने का विरोध करते हुए, हर संभव सहायता एवं सहयोग देने की बात कही। शिरोज कैफे पर लड़कियो ने SUPPORT US #Save Sheroes, STOP ACID ATTACKS की तख्तियां हाथ मे ले रखी थी।

अखिलेश यादव और डिम्पल यादव पहुंचे शीरोज कैफे

समाजवादी पार्टी एसिड पीड़ित लड़कियों की रोजी रोटी की लड़ाई लड़ेगी

अखिलेश यादव और डिम्पल यादव पहुंचे शीरोज कैफे, एसिड अटैक पिडताओ से मिलकर उनके साथ होने रहने का आश्वासन दिया। अखिलेश यादव ने कहा कि एसिड हमले से पीड़ित लड़कियां अपने जीवन में थोड़ी खुशी लाने की कोशिश कर रही थी, उसे भी छीन लेना बहुत ही गलत काम है। मुख्यमंत्री रहते हुए शीरोज का संचालन कर रही एसिड एटैक पीड़ित लड़कियों से आगरा में पहली बार मिला था। उनका उत्साह और जज्बा समाज के लिए सकारात्मक संदेश हैं। सरकार का काम तकलीफ में पड़े गरीब आदमी की मदद करने में खुशी होनी चाहिए। भाजपा सरकार डंडे से राजनीति कर रही है।

भाजपा को अपनी सोच और समझ बदलनी चाहिए

अखिलेश यादव ने कहा कि जो पैसा कमाना चाहते हैं उन्हें जे.पी. सेंटर में बड़ा स्थान दिया जा सकता है। पुलिस भवन बन रहा है। इसके अलावा आगरा- लखनऊ एक्सप्रेस-वे के सड़क किनारे सुविधाओं में भी वे मुनाफेवाली संस्था चला सकते हैं। सरकारों को मानवीय होना चाहिए। और शीरोज कैफे को यहीं रहने देना चाहिए। ऐसा क्रूर समाज जहां बेटियों के जीवन के साथ खिलवाड़ होता है और सरकार भी मानवतापूर्ण व्यवहार नहीं करती है, यह स्थिति संवेदनहीनता की पराकाष्ठा ही कही जाएगी। अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा को अपनी सोच और समझ बदलनी चाहिए। सरकार को बड़े काम करने चाहिए लेकिन वह लोगों को अपमानित करने का काम कर रही है। एक्सप्रेस-वे के टोल टैक्स वसूली का काम बाहरी लोगों को दे दिया गया है। अगर कोई अपनी बात सरकार के सामने रखना चाहता है तो उस पर लाठी-गोली चलती है और घर तक जला दिए जाते हैं।

एसिड अटैक पीड़िताओ का झलका दर्द

एसिड अटैक पीड़ितओ ने बताया”देश के सामाजिक सरोकार रखने से वाले लोगों ने इस मुहिम को समर्थन दिया है। बालीवुड अभिनेत्री रिचा चड्ढा, दिव्या दत्ता, स्वरा भास्कर, डायरेक्टर मेघना गुलजार, अविनास दास, अभिनेता सुशांत सिंह, वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई, स्वाती मालीवाल समेत बहुत सारे लोग ने एसिड अटैक पीड़िओ से छीनने की कोशिश की सार्वजनिक निंदा कर रहे हैं।

इस कैफे को भारत सरकार द्वारा साल 2006 में एसिड अटैक पीड़िताओं के पुनर्वास के लिये राष्ट्रपति द्वारा “नारी शक्ति सम्मान” से भी नवाजा जा चुका है। इसके बावजूद माननीय मंत्री रीता बहुगुणा जोशी जी को “इस कैफे को चलाने जाने का कोई औचित्य नजर नहीं आता है” ऐसा हमें कैफे को तीन दिनों में खाली कर देने के लिये दी गई नोटिस में लिखा  है” अखिलेश यादव और डिम्पल यादव पहुँचे शिरोज कैफे

Sending
User Review
0 (0 votes)

Leave a Comment